Republic day Status in Hindi | Deshbhakti Status | Deshbhakti Shayari | 26 January Status in Hindi | 26 January Shayari in Hindi | 26 January status | 26 January Whatsapp status | 26 January facebook Status …

तैरना है तो समंदर में तैरो नालों में क्या रखा हैं,
प्यार करना है तो देश से करो औरों में क्या रखा हैं..!!

करता हूँ भारत माता से गुजारिश कि
तेरी भक्ति के सिवा कोई बंदगी न मिले,
हर जनम मिले हिन्दुस्तान की पावन धरा पर,
या फिर कभी जिंदगी न मिले..!!

न मरो सनम बेवफा के लिए ,
दो गज जमीन नहीं मिलेगी दफ़न के लिए ,
मरना है तो मरो वतन के लिए,
हसीना भी दुपट्टा उतार देगी तेरे कफ़न के लिए .!!
!! जय हिंद !!

याद रखेंगे वीरो तुमको हरदम, यह बलिदान तुम्हारा हैं
हमको तो हैं जान से प्यारा यह गणतंत्र हमारा हैं..।।।।

कुछ कर गुजरने की गर तमन्ना उठती हो दिल में,
भारत मा का नाम सजाओ दुनिया की महफिल में ।

मेरा जूता है जापानी; पतलून है इंग्लिश तानी,
सर पर लाल टोपी रुसी; फिर भी दिल है हिन्दुस्तानी।

इतना ही कहना काफी नही भारत हमारा मान है,
अपना फ़र्ज़ निभाओ देश कहे हम उसकी शान है |

अलग है भाषा, धर्म जात और प्रांत,
पर हम सब का एक है गौरव राष्ट्रध्वज तिरंगा श्रेष्ठ।

किसकी राह देख रहा, तुम खुद सिपाही बन जाना,
सरहद पर ना सही, सीखो आंधियारो से लढ पाना ।

बंद करो ये तुम आपस में खेलना अब खून की होली,
उस मा को याद करो जिसने खून से चुन्नर भिगोली ।

फना होने की इज़ाजत ली नहीं जाती,
ये वतन की मोहब्बत है जनाब पूछ के की नहीं जाती..!!

मन्दिर से निकलो मस्जिद से निकलो, निकलो गिर्जे गुरुद्वारों से
करो देश आज हिफाजत भीतर के गद्दारों से ।

राष्ट्र के लिए मान-सम्मान रहे, हर एक दिल में हिन्दुस्तान रहे,
देश के लिए एक-दो तारीख नही, भारत माँ के लिए ही हर सांस रहे।

ना सरकार मेरी है ! ना रौब मेरा है ! ना बड़ा सा नाम मेरा है !
मुझे तो एक छोटी सी बात का गर्व हैं, मैं “हिन्दुस्तान” का हूँ और “हिन्दुस्तान” मेरा है।

किसी गजरे की खुशबु को महकता छोड़ आया हूँ,
अपनी नन्ही सी चिड़िया को चहकता छोड़ आया हूँ,
मुझे छाती से अपनी तू लगा लेना ऐ भारत माँ,
मैं अपनी माँ की बाहों को तरसता छोड़ आया हूँ !!

बस ये बात हवाओं को बताये रखना,
रौशनी होगी चिरागों को जलाये रखना,
लहू देकर जिसकी हिफाज़त की शहीदों ने,
उस तिरंगे को सदा दिल में बसाये रखना… !!

कुछ कर गुजरने की गर तमन्ना उठती हो दिल में, भारत माँ का नाम सजाओ दुनिया की महफिल में

लंदन देखा पेरिस देखा और देखा जापान , सरे जग में कहीं नहीं है दूसरा हिन्दुस्तान.. We all feel proud to be an Indian.

अलग है भाषा, धर्म जात और प्रांत, पर हम सब का एक है गौरव राष्ट्रध्वज तिरंगा श्रेष्ठ।

दिल दिया है जान भी देंगे , ऐ वतन तेरे लिए …

आज सलाम है उनको, जिनके कारण ये दिन आता है, खुशनसीब होती है वो माँ, जिनके बच्चों का बलिदान इस देश के काम आता है। गणतंत्र दिवस मुबारक हो!

सारे जहाँ से अच्छा हिन्दुस्तान हमारा , हम बुलबुले हैं इसके , ये गुलिस्तान हमारा… वन्देमातरम !! जय हिन्द !!

जिस देश में पैदा हुए हो तुम… उस देश के अगर तुम भकत नहीं… नहीं पिया दूध माँ का तुमने और बाप का तुम में रक्त नहीं… वन्देमातरम !! गणतंत्र दिवस मुबारक हो!

आजाद की कभी शाम नहीं होने देंगें, शहीदों की कुर्बानी बदनाम नहीं होने देंगें, बची हो जो एक बूंद भी गरम लहू की, तब तक भारत माता का आँचल नीलाम नहीं होने देंगें!गणतंत्र दिवस मुबारक हो!

वतन हमारा ऐसा कोई ना छोड पाये, रिश्ता हमारा ऐसा कोई न तोड़ पाये, दिल एक है जान एक है हमारी, हिन्दुस्तान हमारा है यह शान हैं हमारी…गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनायें..

ज़माने भर में मिलते हैं आशिक कई, मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता, नोटों में भी लिपट कर, सोने में सिमटकर मरे हैं कई, मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता..
गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं!

ना सरकार मेरी है ! ना रौब मेरा है ! ना बड़ा सा नाम मेरा है ! मुझे तो एक छोटी सी बात का गौरव है , मै “हिन्दुस्तान” का हूँ…. और “हिन्दुस्तान” मेरा है…जय हिन्द

कुछ कर गुजरने की गर तमन्ना उठती हो दिल में, भारत माँ का नाम सजाओ दुनिया की महफिल में

कुछ कर गुजरने की गर तमन्ना उठती हो दिल में, भारत माँ का नाम सजाओ दुनिया की महफिल में

अलग है भाषा, धर्म जात और प्रांत, पर हम सब का एक है गौरव राष्ट्रध्वज तिरंगा श्रेष्ठ।

आज सलाम है उनको, जिनके कारण ये दिन आता है, खुशनसीब होती है वो माँ, जिनके बच्चों का बलिदान इस देश के काम आता है। गणतंत्र दिवस मुबारक हो!

सारे जहाँ से अच्छा हिन्दुस्तान हमारा , हम बुलबुले हैं इसके , ये गुलिस्तान हमारा… वन्देमातरम !! जय हिन्द !!

जिस देश में पैदा हुए हो तुम… उस देश के अगर तुम भकत नहीं… नहीं पिया दूध माँ का तुमने और बाप का तुम में रक्त नहीं… वन्देमातरम !! गणतंत्र दिवस मुबारक हो!

आजाद की कभी शाम नहीं होने देंगें, शहीदों की कुर्बानी बदनाम नहीं होने देंगें, बची हो जो एक बूंद भी गरम लहू की, तब तक भारत माता का आँचल नीलाम नहीं होने देंगें!गणतंत्र दिवस मुबारक हो!

वतन हमारा ऐसा कोई ना छोड पाये, रिश्ता हमारा ऐसा कोई न तोड़ पाये, दिल एक है जान एक है हमारी, हिन्दुस्तान हमारा है यह शान हैं हमारी…गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनायें..

ज़माने भर में मिलते हैं आशिक कई, मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता, नोटों में भी लिपट कर, सोने में सिमटकर मरे हैं कई, मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता..
गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं!

बुलंद भारत के निकम्मे बच्चो, वैलेंटाइन्स/फ्रेंडशिप डे होता तो अब तक 100 sms हो गए होते… Come on, it’s a great day…So wish everybody JAI HIND… Happy Republic Day

हम लोग परिवार के साथ चैन से सो सके… चैन से जी सके… इसलिए हमारे जवान रोज़ बॉर्डर पर मरते हैं… वन्देमातरम !! जय हिन्द !!

हम हाथ मिलाना भी जानते है..उखाड़ना भी… हम गांधी जी को भी पूजते है और चंद्रशेखर आज़ाद को भी… वन्देमातरम !! जय हिन्द !!

न सर झुका है कभी..और न झुकायेंगे कभी, जो अपने दम पे जियें…सच में ज़िन्दगी है वही… जिओ सच्चे भारतीय बन कर… गणतंत्र दिवस मुबारक हो!

चलो फिर से खुद को जगाते हैं… अनुशासन का डंडा फिर घुमाते हैं… सुनहरा रंग है गणतंत्र का शहीदों के लहू से… ऐसे शहीदों को हम सब सर झुकाते हैं।गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं!

हमारी जुबां भी हमारी गोली की तरह… दुश्मनों से सीधी बात करती है…Wishing you all a very Happy Republic Day

देश भक्तों के बलिदान से, स्वतंत्र हुए हैं हम… कोई पूछे कौन हो, तो गर्व से कहेंगे, भारतीय हैं हम.. गणतंत्र दिवस मुबारक हो!

क्यु मरते हो यारो “Sanam” के लिये,
यें न देगी दुपट्टा “Kafan” के लिये,
मरना हो तो मरो “Watan” के लिये,
“Tiranga” तो मिलेगा “Kafan” के लिये,

बुलंद भारत के निकम्मे बच्चो, वैलेंटाइन्स/फ्रेंडशिप डे होता तो अब तक 100 sms हो गए होते…

हम लोग परिवार के साथ चैन से सो सके… चैन से जी सके… इसलिए हमारे जवान रोज़ बॉर्डर पर मरते हैं… वन्देमातरम !! जय हिन्द !!

हम हाथ मिलाना भी जानते है..उखाड़ना भी… हम गांधी जी को भी पूजते है और चंद्रशेखर आज़ाद को भी… वन्देमातरम !! जय हिन्द !!

न सर झुका है कभी..और न झुकायेंगे कभी, जो अपने दम पे जियें…सच में ज़िन्दगी है वही… जिओ सच्चे भारतीय बन कर… गणतंत्र दिवस मुबारक हो!

चलो फिर से खुद को जगाते हैं… अनुशासन का डंडा फिर घुमाते हैं… सुनहरा रंग है गणतंत्र का शहीदों के लहू से… ऐसे शहीदों को हम सब सर झुकाते हैं।गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं!
हमारी जुबां भी हमारी गोली की तरह… दुश्मनों से सीधी बात करती है…

देश भक्तों के बलिदान से, स्वतंत्र हुए हैं हम… कोई पूछे कौन हो, तो गर्व से कहेंगे, भारतीय हैं हम.. गणतंत्र दिवस मुबारक हो!

R-Rising
E-Empowered
P-Powerful
U-Ultimate
B-Beautiful
L-Lovely
I-Independent
C-Charming
Happy Republic Day

ैं भारत बर्ष का हमेशा अमित सम्मान करता हूँ,
यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ,
मुझे चिंता नहीं है स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की,
तिरंगा हो कफ़न मेरा, बस यही अरमान रखता हूँ..!!

ज़माने भर में मिलते हे आशिक कई,
मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता,
नोटों में भी लिपट कर, सोने में सिमटकर मरे हे कई,
मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता …!!
!! जय हिंद !!

इश्क़ तो करता है हर कोई ,
महबूब पे मरता है हर कोई ,
कभी वतन को महबूब बना कर देखो ,
तुझ पे मरेगा हर कोई ….!!

चलो फिर से आज वो नजारा याद कर ले ,
शहीदों के दिल में थी वो जलवा यद् करले
जिसमे बहकर आज़ादी पहुँची थी किनारे पे,
देशभक्तों के खून की वो धारा याद कर ले…!!

जशन आज़ादी का मुबारक हो देश वालो को,
फंदे से मोहब्बत थी हम वतन के मतवालो को…!!

आजाद, भगत सिंह जैसे इस देश में जन्में वीर यहाँ,
कुर्बानी की इनकी गाथाएं गता है ये सारा जहाँ..!!

आजादी की कभी शाम नहीं होने देंगे
शहीदों की कुर्बानी बदनाम नहीं होने देंगे
बची हो जो एक बूंद भी लहू की
तब तक भारत माता का आँचल नीलाम नहीं होने देंगे…!!

लिख रहा हूं मैं अजांम जिसका कल आगाज आयेगा,
मेरे लहू का हर एक कतरा इकंलाब लाऐगा
मैं रहूँ या ना रहूँ पर ये वादा है तुमसे मेरा कि,
मेरे बाद वतन पर मरने वालों का सैलाब आयेगा…!!

मैं भारतवर्ष का हरदम अमिट सम्मान करता हूँ
यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ,
मुझे चिंता नहीं है स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की,
तिरंगा हो कफ़न मेरा, बस यही अरमान रखता हूँ…!!

खूब बहती है, अमन की गंगा बहने दो,
मत फैलाओ देश में दंगा रहने दो,
लाल हरे रंग में ना बाटो हमको,
मेरे छत पर एक तिरंगा रहने दो…!!

अपनी धरती अपना हैं ये वतन,
मेरा है मेरा है ये वतन इस पर जो आॅंख उठाएगा,
जिंदा दफना दिया जाएगा मुझे जान से भी प्यारा है ये वतन..!!

लिख रहा हूं मैं अजांम जिसका कल आगाज आयेगा,
मेरे लहू का हर एक कतरा इकंलाब लाऐगा,
मैं रहूँ या ना रहूँ पर ये वादा है तुमसे मेरा कि,
मेरे बाद वतन पर मरने वालों का सैलाब आयेगा..!!

दिल से मर कर भी ना निकलेगी वतन की उल्फ़त,
मेरे मिट्टी से भी खुशबू-ए-वतन आएगी..!!

जो अब तक ना खौला वो खून नही पानी हैं,
जो देश के काम ना आये वो बेकार जवानी हैं..!!

सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में हैं,
देखना हैं जोर कितन बाजू-ए-कातिल में हैं,
वक्त आने दे बता देंगे तुझे ए आसमां,
हम अभी से क्या बताएं क्या हमारे दिल में हैं..!!

लड़ें वो बीर जवानों की तरह,
ठंडा खून फ़ौलाद हुआ,
मरते-मरते भी की मार गिराए,
तभी तो देश आज़ाद हुआ..!!

किसी को लगता हैं हिन्दू ख़तरे में हैं,
किसी को लगता मुसलमान ख़तरे में हैं,
धर्म का चश्मा उतार कर देखो यारों,
पता चलेगा हमारा हिंदुस्तान ख़तरे में हैं..!!

है नमन उनको कि जो यशकाय को अमरत्व देकर,
इस जगत में शौर्य की जीवित कहानी हो गये हैं,
है नमन उनको जिनके सामने बौना हिमालय,
जो धरा पर गिर पड़े पर आसमानी हो गये हैं..!!

उन आँखों की दो बूंदों से सातों सागर हारे हैं,
जब मेहँदी वाले हाथों ने मंगल-सूत्र उतारे हैं..!!

कुछ पन्ने इतिहास के
मेरे मुल्क के सीने में शमशीर हो गएँ,
जो लड़े, जो मरे वो शहीद हो गएँ,
जो डरे, जो झुके वो वजीर हो गएँ..!!

चिंगारी आजादी की सुलगी मेरे जश्न में हैं,
इन्कलाब की ज्वालाएं लिपटी मेरे बदन में हैं,
मौत जहाँ जन्नत हो ये बात मेरे वतन में हैं,
कुर्बानी का जज्बा जिन्दा मेरे कफन में हैं..!!

ज़माने भर में मिलते हे आशिक कई ,
मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता ,
नोटों में भी लिपट कर, सोने में सिमटकर मरे हे कई ,
मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता..!!

जशन आज़ादी का मुबारक हो देश वालो को,
फंदे से मोहब्बत थी हम वतन के मतवालो को..!!

चले आओ मेरे परिंदों लौट कर अपने आसमान में,
देश की मिटटी से खेलो, दूर-दराज़ में क्या रखा है..!!

मेरे मुल्क की हिफाज़त ही मेरा फ़र्ज है और मेरा मुल्क ही मेरी जान है ,
इस पर कुर्बान है मेरा सब कुछ , नही इससे बढ़कर मुझको अपनी जान है..!!

मैं भारत बरस का हरदम अमित सम्मान करता हूँ
यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ,
मुझे चिंता नहीं है स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की,
तिरंगा हो कफ़न मेरा, बस यही अरमान रखता हूँ..!!

वतन हमारा ऐसे न छोड़ पाए कोई,
रिश्ता हमारा ऐसे न तोड़ पाए कोई,
दिल हमारे एक है एक है हमारी जान,
हिंदुस्तान हमारा है, हम है इसकी शान..!!

दे सलामी इस तिरंगे को
जिस से तेरी शान हैं,
सर हमेशा ऊँचा रखना इसका
जब तक दिल में जान हैं..!!

आजादी की कभी शाम नहीं होने देंगे
शहीदों की कुर्बानी बदनाम नहीं होने देंगे
बची हो जो एक बूंद भी लहू की
तब तक भारत माता का आँचल नीलाम नहीं होने देंगे..!!

मुझे ना तन चाहिए, ना धन चाहिए
बस अमन से भरा यह वतन चाहिए
जब तक जिन्दा रहूं, इस मातृ-भूमि के लिए
और जब मरुँ तो तिरंगा कफ़न चाहिये..!!

देश को आजादी के नए अफसानों की जरूरत है
भगत-आजाद जैसे आजादी के दीवानों की जरूरत है,
भारत को फिर देशभक्त परवानों की जरूरत है..!!

ऐ मेरे वतन के लोगों तुम खूब लगा लो नारा
ये शुभ दिन है हम सब का लहरा लो तिरंगा प्यारा
पर मत भूलो सीमा पर वीरों ने है प्राण गँवाए
कुछ याद उन्हें भी कर लो जो लौट के घर न आये..!!

खून से खेलेंगे होली,
अगर वतन मुश्किल में है
सरफ़रोशी की तमन्ना
अब हमारे दिल में है..!!

स्वतंत्रता दिवस पर शायरी
कुछ नशा तिरंगे की आन का है,
कुछ नशा मातृभूमि की मान का है,
हम लहरायेंगे हर जगह ये तिरंगा,
नशा ये हिन्दुस्तान की शान का है..!!

कर जस्बे को बुलंद जवान
तेरे पीछे खड़ी आवाम
हर पत्ते को मार गिरायेंगे
जो हमसे देश बटवायेंगे..!!

लिख रहा हूं मैं अजांम जिसका कल आगाज आयेगा,
मेरे लहू का हर एक कतरा इकंलाब लाऐगा
मैं रहूँ या ना रहूँ पर ये वादा है तुमसे मेरा कि,
मेरे बाद वतन पर मरने वालों का सैलाब आयेगा..!!

जिन्हें है प्यार वतन से, वो देश के लिए अपना लहू बहाते हैं
माँ की चरणों में अपना शीश चढ़ाकर, देश की आजादी बचाते हैं
देश के लिए हँसते-हँसते अपनी जान लुटाते हैं..!!

हलकी सी धुप बरसात के बाद,
थोड़ी सी खशी हर बात के बाद,
इसी तरह मुबारक हो आप को,
आजादी 1 दिन के बाद..!!

5 Replies to “26 January Wishes in hindi”

  1. ##Aao ghuk kr salam kre unko, jinke hisse me ye mukam aata hai, khushnaseeb hota vo khoon, jo desh ke kam aata hai….

  2. आओ जुक कर करे सलाम उन्हें
    जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है
    किस कदर खुश नसीब है वो लोग
    जिनका खून वतन के काम आता है

  3. मौत तेरी भी तय है,
    मौत मेरी भी तय है|
    हो जाये दो दो हाथ,
    देखते है किस्मत किसकी तेज़ है ||

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *